Type Here to Get Search Results !

PM Shri School in Hindi | देश के 14500 स्कूलों को किया जाएगा अपग्रेड

Pm shri yojana | PM Shri School | Pm shri sheame | Pm shri School yojana 2022 : प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी सरकार द्वारा के भारत देश स्थिति को सुधारने एवं विकास करने के लिए नियंत्रण प्रयास किए जा रहे हैं जिसके लिए समय-समय पर हर अलग-अलग क्षेत्रों के लिए अलग-अलग योजनाएं की शुरुआत की जा रही है और हाल ही में 5 सितंबर यानी शिक्षक दिवस के शुभ अवसर पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर ट्वीट करते हुए प्रधानमंत्री स्कूल्स फॉर राइजिंग इंडिया (पीएम-श्री) योजना की घोषणा की और साथ में उन्होंने ट्वीट में कहा है कि “आज शिक्षक दिवस पर मुझे एक नई पहल की घोषणा करते हुए काफी खुशी हो रही है। Prime Minister School for Rising India (PM-SHRI) योजना के तहत पूरे भारत में 14500 स्कूलों का विकास और उन्नयन किया जाएगा। यह सभी 14500 स्कूल स्मार्ट स्कूल बनेंगे और इनमें राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) की पूरी भावना समाहित होगी ऐसे में अगर आपको pm shri yojana के बारे में कुछ पता नहीं है और आप इससे संबंधित सभी जानकारियों के बारे में अच्छे जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल पर बने रहे और इस आर्टिकल को पूरा अच्छे से पढ़ें। 

PM SHRI Yojana | पीएम श्री योजना क्या है 

pm shri School

PM SHRI Yojana के शुभारंभ घोषणा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किया गया है योजना के तहत देश के 14500 स्कूलों को अपग्रेड करने का प्लान किया गया है जहां बच्चों की पढ़ाई आधुनिक, परिवर्तनकारी और समग्र तरीके से होगी. तथा इन 14500 अपग्रेड किए गए स्कूलों में लेटेस्ट तकनीक, स्मार्ट क्लासरूम, खेल और अन्य सहित आधुनिक इंफ्रा पर भी ध्यान दिया जाएगा। PM Shree Scheme के तहत अपग्रेड किए जाने वाले स्कूल केंद्रीय विद्यालय की तर्ज पर केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय के अधीन होंगे। पीएम-श्री स्कूल योजना (PM Shri Schools) को 2022-2027 तक पांच वर्षों की अवधि में लागू किया जाएगा सरकार द्वारा इस योजना के तहत 14500 अपग्रेड किए जाने वाले सभी स्कूल सरकारी स्कूल होंगे। इस योजना के तहत स्कूलों की चयन प्रक्रिया कि बात करें तो 14,597 स्कूलों का आदर्श स्कूलों के रूप में चयन कुल तीन चरणों के प्रक्रिया के माध्यम से किया जाएगा। इसके तहत सहायता प्राप्त करने के लिए स्कूल प्रतिस्पर्धा करेंगे। पूरे देश में कुल स्कूलों की संख्या की ऊपरी सीमा के साथ हर ब्लॉक में अधिकतम दो स्कूलों का चयन किया जाएगा जिसमें से एक प्राथमिक और एक माध्यमिक/ उच्च माध्यमिक विधालय होगा। पीएम श्री योजना के लिए स्कूलों के चयन और निगरानी के लिए स्कूलों की जियो-टैगिंग की जाएगी। योजना के तहत स्कूलों को स्वयं ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर आवेदन करना होगा। इस योजना के शुरुआत के पहले दो वर्षों के दौरान, इसके आनलाइन पोर्टल को वर्ष में चार बार, यानी प्रत्येक तिमाही में एक बार खोला जाएगा जिसके दौरान जब पोर्टल खोला जाएगा उस समय के अंतराल स्कूले आवेदन कर सकती है 

pm shri School yojana overview 2022

योजना का नामPM Shri School
योजना घोषित की गईप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
घोषित दिनांकशिक्षक दिवस 5 सितंबर 2022 
उद्देश्यभारत के पुराने स्कूलों को अपग्रेड करना
अपग्रेड किए जाने वाले स्कूलों कि संख्या14,500 स्कूल
साल2022
योजना का प्रकारकेंद्र सरकारी योजना

pm shri School yojana के तहत कितना खर्च आएगा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा शुभारंभ कि गई PM SHRI Yojana के तहत देश के सभी स्कूलों में से 14500 स्कूलों का चयन किया जिसके माध्यम से लगभग 18 लाख से भी अधिक छात्रों को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा जिसके लिए कुल 27,360 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे। और इसमें से 18,128 करोड़ रुपये केंद्र की हिस्सेदारी होगी। 

PM SHRI Yojana का मुख्य उद्देश्य 

प्रधानमंत्री मोदी जी के द्वारा हाल शुरूआत की गई PM SHRI School का मुख्य उद्देश्य देश में शिक्षा को बढ़ावा देना एवं स्मार्ट पढ़ाई के उद्देश्य से देश के 14500 स्कूलों को अपग्रेड किया जाएगा जिसमें अपग्रेड किए गए स्कूलों में लेटेस्ट तकनीक, स्मार्ट क्लासरूम, खेल और अन्य सहित आधुनिक इंफ्रा पर भी ध्यान दिया जाएगा। एवं स्कूलों के चयन के लिये 60 मानक निर्धारित किये गए हैं जिसमें पक्की इमारत, पेयजल सुविधा, लड़के-लड़कियों के लिए अलग-अलग शौचालय, खेल का मैदान, दिव्यांग बच्चों के लिये सुविधाएं आदि और भी अन्य सुविधाएं शामिल हैं। और साथ में पीएमओ ने यह जानकारी देते हुए कहा है “इन स्कूलों का उद्देश्य सिर्फ गुणवत्तापूर्ण शिक्षण, अध्ययन और संज्ञानात्मक विकास होगा बल्कि 21वी सदी के कौशल की जरूरतों के अनुरूप समग्र और पूर्ण विकसित नागरिकों का निर्माण करना भी है।” PM SHRI School के माध्यम से अब गरीब बच्चे भी स्मार्ट स्कूलों से जुड़ें सकेंगे जिससे भारत के शिक्षा क्षेत्र को एक अलग पहचान मिलेगी।  

Pm shri School yojana की खासियतें

स्कूलों में स्मार्ट क्लासरूम, साइंस लैब, आधुनिक लाइब्रेरी व सभी सुविधाओं वाला खेल का मैदान होगा.

देश के हर एक ब्लॉक में कम से कम दो स्कूलों को पीएम श्री स्कूल योजना के तहत अपग्रेड किया जाएगा। 

योजना के तहत स्कूलों को स्वयं ऑनलाइन पोर्टल पर जाकर आवेदन करना होगा। 

पीएमश्री स्कूलों में राष्ट्रीय शिक्षा नीति (NEP) के सभी घटकों की झलक होगी।

अपग्रेड किए गए स्कूल अपने आसपास के अन्य स्कूलों का भी मार्गदर्शन करेंगे।

इन स्कूलों में प्री प्राइमरी से लेकर 12वीं तक की पढ़ाई होगी।

पीएम श्री स्कूलों के लिए नई बिल्डिंग बनाने के बजाय पुराने सरकारी स्कूलों को अपग्रेड किया जाएगा, जिसका खर्चा सरकार उठाएगी.

इन स्कूलों में दाखिले के लिए कॉमन एडमिशन टेस्ट आयोजित किया जा सकता है.

प्राइमरी और प्री प्राइमरी लेवल के बच्चों को गेम्स पर फोकस कराया जाएगा. 

योजना के तहत अपग्रेड किए जाने वाले स्कूलों में नियुक्त किए जाने वाले टीचर्स को अलग से ट्रेनिंग दी जाएगी.

छोटे बच्चों के क्लासरूम में खेल-खिलौने व अन्य अधुनिक इंफ्रास्ट्रक्चर का ध्यान रखा जाएगा.

इन स्कूलों के करिकुलम में ऑर्गेनिक लाइफस्टाइल को शामिल किया जाएगा.

पीएम श्री स्कूल योजना से पूरे भारत के 18 लाख से भी अधिक छात्रों को फायदा होगा. 


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.